बीवी को काबू में करने की दुआ


miya aur biwi ka rista tab tak hi bna rhata hai jab tak ve dono ek dusare par vishvash karte hai aur ek dusre ko samjhte ho. lekin kayi baar shohar apne biwi ko apne kabu me karna chahata hai. Kyuki uski biwi apne shohar ki koi ijjat nhi karti hai aur na hi apne shohar se mohabbat karti hai. Kayi bar dekha gya hai ki kisi shakhs ki biwi ka dusre mard ke sath koi chakkar chalta hai aur vah apne pariwaar se alag hona chahati hai. Lekin shohar apne biwi ko apne kabu me karne ki koshish karta hai lekin vah kameyab nhi ho pata hai.

Biwi ko kabu me karne ki dua

बीवी को काबू में करने की दुआ:- मियां और बीवी का रिश्ता तब तक ही बना रहता है जब तक वे दोनों एक दूसरे पर विश्वास करते है और एक दूसरे को समझते हो. लेकिन कई बार शोहर अपने बीवी को अपने काबू में करना चाहता है. क्युकी उसकी बीवी अपने शौहर की कोई इज्जत नहीं करती है और न ही अपने शौहर से मोहब्बत करती है. कई बार देखा गया है कि किसी शख्स की बीवी का दूसरे मर्द के साथ कोई चक्कर चलता है| और वह अपने परिवार से अलग होना चाहती है| लेकिन शोहर अपने बीवी को अपने काबू में करने की कोशिश करता है लेकिन वह कामयाब नहीं हो पता है|

Biwi ko vash me karne ki dua

Har ek mard chahata hai ki uski biwi use beintha mohbbat kare aur uske har ek khyaish ko poora kare. Lekin kayi martaba dekha gya hai ki biwi apne shohar ka koi bhi baat mananese inkaar kar deti hai aur apne shohar se talaq lena ke bare me sochati hai. Lekin shohar apna biwi ko apne se door nhi hona dena chahta hai. Aur vah apne shadi ko todne se bachane ka koshish karta hai. Ve sabhi tarah ka koshish karta hai fir bhi apne biwi par apna kabu nhi pa sakta hai. Jise ki vah mayush hone lag jata hai aur koi wazifa ya dua ka sahayta lena chahata hai.

बीवी को वश में करने की दुआ

हर एक मर्द चाहता है| की उसकी बीवी उसे बेइंतहा मोहब्बत करे और उसके हर एक ख्याइश को पूरा करे| लेकिन कई मर्तबा देखा गया है| की बीवी अपने शौहर का कोई भी बात माननी इंकार कर देती है| और अपने शौहर से तलाक़ लेना के बारे में सोचती है| लेकिन शौहर अपना बीवी को अपने से दूर नहीं होने देना चाहता है| और वह अपने शादी को तोड़ने से बचने का कोशिश करता है| वे सभी तरह का कोशिश करता है| फिर भी अपने बीवी पर अपना काबू नहीं पा सकता है| जिसे की वह मायुश होने लग जाता है| और कोई वज़ीफ़ा या दुआ का सहायता लेना चाहता है|

Biwi ko nirantar me karne ki dua

Kya aap log bhi apne biwi ko apne kabu me rakhna chahate hai ya vah aap ki koi baat nhi manati hai aur anhi aap se mohbbat karti hai to aap hamare Baba ji ka biwi ko kabu me karne ki dua ka istmaal kar ke apne biwi ko apne vash me kar sakte hai. Jise ki aap ki biwi aap ki sabhi tarah ka baat ko manegi aur aap se pahle jaisa mohbbat karegi a jise ki aap ke jeevan me khushiyan hi khushiyan aane lagegi aur aap ka shadi –shuda jeevan hmasha aap ke isaaro par chalega.

बीवी को निरंतर में करने की दुआ

क्या आप लोग भी अपने बीवी को अपने काबू में रखना चाहते है| या वह आप की कोई बात नही मानती है| और अनहि आप से मोहब्बत करती है| तो आप हमारे बाबा जी का बीवी को काबू में करने की दुआ का इस्तमाल कर के अपने बीवी को अपने वश में कर सकते है| जिसे की आप की बीवी आप की सभी तरह का बात को मानेगी और आप से पहले जैसा मोहब्बत करेगी ा जिसे की आप के जीवन में खुशियां ही खुशियां आने लगेगी और आप का शादी –शुदा जीवन हमेशा आप के इशारों पर चलेगा|

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s